मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) कौन है | MICHIYO TSUJIMURA Biography in Hindi

मीचियो त्सूजीमुरा कौन है MICHIYO TSUJIMURA Biography in Hindi आज काफी लोग इसकी चर्चा कर रहे है क्युकी गूगल डूडल ने इसे सेलिब्रेट किया है | तो चलिए आज हम इसी बारे में चर्चा करेंगे जो है |

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) कौन है ?

MICHIYO TSUJIMURA जापानी शिक्षक और बायोकेमिस्ट जिनकी आज 133 वी जयंती है जिसे गूगल ने अपने डूडल से सम्मानित कर रहा है | आप सबने ग्रीन टी के बारे में तो जरूर सुना होगा और ज्यादा तर लोग इसे अपने डेली रुटीन में इस्तेमाल भी करते होंगे | मगर शायद ही आप जानते होंगे कि ग्रीन टी की खोज कब ,कैसे और किसने की |

जी है जापानी शिक्षक और बायोकेमिस्ट मीचियो त्सूजीमुरा को इसका श्रे जाता है उन्होंने ही ये जानकारी प्रदान की ग्रीन टी को ज्यादा देर नहीं भिगोना चाहिए और इसका स्वाद कड़वा होता है यह सब जानकारी मीचियो त्सूजीमुरा की ही देन है |

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) का जन्म कब हुआ था ?

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) का जन्म 17 सितम्बर 1888 में तामा प्रान्त के ओकेगावा में हुआ था।

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) की शिक्षा

उन्होंने टोक्यो प्रीफेक्चर महिला सामान्य स्कूल में भाग लिया और १९०९ में उन्होने स्नातक की उपाधि प्राप्त की और टोक्यो महिला उच्च सामान्य स्कूल में विज्ञान विभाग में भाग लिया। वहां, उन्हें जीवविज्ञानी कोनो यासुई ने पढ़ाया था |

उन्होंने 1913 में स्नातक की उपाधि प्राप्त की और कानागावा प्रान्त में महिलाओं के लिए योकोहामा हाई स्कूल में शिक्षिका बनीं। 1917 में, वह सैतामा महिला सामान्य स्कूल में पढ़ाने के लिए सीतामा प्रान्त लौट आईं।

त्सुजिमुरा का शोध करियर 1920 में शुरू हुआ जब वह एक प्रयोगशाला सहायक के रूप में होक्काइडो इम्पीरियल यूनिवर्सिटी में शामिल हुईं।

त्सुजिमुरा और उनके सहयोगी सीतारो मिउरा ने 1924 में ग्रीन टी में विटामिन सी की खोज की, और बायोसाइंस, बायोटेक्नोलॉजी और बायोकैमिस्ट्री पत्रिका में “ऑन विटामिन सी इन ग्रीन टी” शीर्षक से एक लेख प्रकाशित किया। इस खोज ने उत्तरी अमेरिका में हरी चाय के निर्यात में वृद्धि में योगदान दिया।

1929 में, त्सुजिमुरा ने फ्लेवोनोइड कैटेचिन को ग्रीन टी से अलग कर दिया। उन्होंने 1930 में ग्रीन टी से क्रिस्टल के रूप में टैनिन निकाला। उन्होंने 1934 में गैलोकैटेचिन को ग्रीन टी से अलग किया | उन्होंने 1932 में टोक्यो इम्पीरियल यूनिवर्सिटी से कृषि में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की |

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) की उपलब्धिया ?

उन्होंने 1932 में टोक्यो इम्पीरियल यूनिवर्सिटी से कृषि में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की, जिससे वह इस तरह की डिग्री प्राप्त करने वाली जापान की पहली महिला बन गईं। 1956 में कृषि विज्ञान के जापान पुरस्कार से सम्मानित किया गया था और 1968 में उन्हें ऑर्डर ऑफ द प्रीशियस क्राउन ऑफ द फोर्थ Class से सम्मानित किया गया था।

मीचियो त्सूजीमुरा (MICHIYO TSUJIMURA) की मृत्यु कब और कहा हुई ?

1 जून 1969 को 80 वर्ष की आयु में उनका टोयोहाशी में निधन हो गया।

Spread the love
Shubhashish dey

Hello Friends , My Name Is Shubhashish Dey और मैं technewsfactory.com का founder और author हू साथ में एक Blogger और Digital marketer हू |

Leave a Comment