अगर खरीदते है Online Policy सावधान | अंतरराज्यीय गिरोह का किया भंडाफोड़ | मुंबई पुलिस

आज के समय में सारी चीजे डिजिटल होती जा रही है ताकि सबको सहूलियत हो सके पेपरलेस काम जल्द से जल्द हो सके लेकिन इन सभी के साथ साथ ऑनलाइन ठगी के मामले भी बढ़ते जा रहे है | इस लिए हमे सचेत और सावधान रहने की जरुरत है | ऐसा ही एक वाकया मुंबई में हुआ है |

मुंबई साइबर पुलिस ने एक शिकायत पर तुरंत करवाई करते हुए एक बड़े गिरोह का भंडा फोर किया है जो मुख्य कंपनी के नकली जीवन बिमा बेचने का काम कर रहे थे | और ऐसी बिमा के नाम पर लोगो को ठग रहे थे | पुलिस के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी कि शिकार हुए एक व्यक्ति के शिकायत के अनुसार बीते जून 2020 से मार्च 2021 तक के लॉक डाउन में ,जीवन बिमा कंपनी के प्रतिनिधि होने का दावा करके संपर्क किया और तरह -तरह के प्रस्तावों का लालच दिया |

hindi.latestly.com के अनुसार धोखाधड़ी के जाल महाराष्ट्र, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली राज्यों में फैले हुए हैं. आरोपी भारती एक्सा इंश्योरेंस के बानी सिंह और विजय मेहता और पीएनबी मेटलाइफ इंश्योरेंस के दीपक दुबे, स्नेहा और पूजा हैं. उन्होंने उसे एक ऑनलाइन पॉलिसी बेची और भारती एक्सा के कथित ईमेल से पॉलिसी दस्तावेज भेजे. उनको मेल यह दावा करते हुए भेजा गया कि वे हैदराबाद में आईआरडीए के अधिकृत प्रतिनिधि थे. ठगों ने शिकायतकर्ता को 71.87 लाख रुपये का लाभ, साथ ही 12 लाख रुपये का ब्याज मुक्त ऋण, आजीवन पेंशन की पेशकश की और उससे 18.98 लाख रुपये जमा करने के लिए मजबूर किया |

ठगी महसूस करते हुए पीड़ित ने मुंबई साइबर पुलिस, उत्तर क्षेत्र से संपर्क किया, जिन्होंने मामले की जांच की. जांच में कम से कम पांच राज्यों – दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र में फैले बड़े घोटाले का खुलासा हुआ | मोबाइल कार्ड खुदरा विक्रेताओं के पास जमा किए गए अपने केवाईसी दस्तावेजों का दुरुपयोग करके वास्तविक ग्राहकों के नाम पर हासिल किए गए नकली सिम कार्ड का उपयोग किया|

अब तक, पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है और कोटक महिंद्रा बैंक और आईसीआईसीआई बैंक के दो खातों को फ्रीज कर दिया है. साथ ही पांच मोबाइल फोन और कई नकली सिम कार्ड जब्त किए हैं. साइबर पुलिस को यह भी पता चला है कि कुछ आरोपियों के खिलाफ लखनऊ, यूपी और अन्य स्थानों पर भी इसी तरह के पुलिस मामले दर्ज हैं और इस तरह की नकली ऑनलाइन बीमा पॉलिसियों को बेचने वाले अन्य राज्यों में गिरोह की सांठगांठ का पता लगाने के लिए आगे की जांच जारी है

Spread the love
Shubhashish dey

Hello Friends , My Name Is Shubhashish Dey और मैं technewsfactory.com का founder और author हू साथ में एक Blogger और Digital marketer हू |

Leave a Comment